Monday, December 19, 2022

बैंको के Headquarters के नाम याद रखने की ट्रिक

बैंको_के_Headquarters_के_नाम_याद_रखने_की_ट्रिक

A. यदि किसी बैंक के नाम में " Bank of India " आता है तो उसका मुख्यालय मुंबई होगा ।
BANK OF INDIA “ ==> -MUMBAI
1. BANK OF INDIA ==> MUMBAI
2. Central BANK OF INDIA ==> MUMBAI
3. Industrial Development BANK OF INDIA ==> MUMBAI
4. State BANK OF INDIA ==> MUMBAI
5. Union BANK OF INDIA ==> MUMBAI
6. Reserve BANK OF INDIA ==> MUMBAI
7. Securities and Exchange BOARD OF INDIA ==> MUMBAI
8. Dena Bank - ==> MUMBAI (देना बैंक को छोड़ कर)

B. यदि किसी बैंक के नाम में " UNITED " आता है तो उसका मुख्यालय KOLKATA होगा ।
1. UNITED Bank of India
2. UNITED Commercial Bank
3. Allahbad Bank

C. यदि किसी बैंक के नाम में " PUNJAB MAHILA " आता है तो उसका मुख्यालय DELHI होगा।
1. PUNJAB National Bank
2. PUNJAB & Sind Bank
3. Bharathiya MAHILA Bank
4. Oriental bank of commerce

D. यदि किसी बैंक के नाम में " INDIAN " आता है तो उसका मुख्यालय CHENNAI होगा.
1. INDIAN Overseas Bank
2. INDIAN Bank
E. यदि किसी बैंक के नाम में " VIJAY or CAN " आता है तो उसका मुख्यालय BENGALURU होगा.
1. VIJAYa Bank
2. CANara Bank

F. व्यक्तिगत बैंक (INDIVIDUAL BANKS)
1). ANDHRA BANK ==> HYDERABAD(CAPITAL OF ANDHRA PRADESH)
2). Bank of BARODA ==> BARODA/VADODARA(GUJARAT)

3). Bank Of Maharashtra ==> PUNE (Maharashtra)
4). Corporation Bank ==> MANGALURU
5). Syndicate Bank ==> MANIPAL

SSC CHSL Vs SSC MTS: जॉब प्रोफाइल, वेतन, और पदोन्नति

SSC CHSL Vs SSC MTS: जॉब प्रोफाइल, वेतन, और पदोन्नति
SSC CHSL Vs SSC MTS: जॉब प्रोफाइल, वेतन, और पदोन्नति
SSC CHSL vs. SSC MTS: जॉब प्रोफाइल :-
SSC CHSL में, आपकी जॉब प्रोफाइल आपकी पोस्टिंग पर निर्भर करती है|

SSC CHSL जॉब प्रोफाइल:-
डाक सहायक / छंटनी सहायक  - उम्मीदवार को डाकघर, बचत बैंक नियंत्रण संगठन, सर्कल / क्षेत्रीय कार्यालय, मेल मोटर सेवाओं, रिटर्न पत्र कार्यालय, विदेशी डाक संगठन, रेलवे मेल सेवा और विभिन्न बहु-उददेशीय पदों पर भर्ती किया जाता हैं।

लोअर डिवीजन क्लार्क - इस पोस्ट के तहत, मेल पंजीकृत करने, इंडेक्सिंग-रजिस्ट्रिंग और फाइल रजिस्टरों को बनाए रखने, दस्तावेजों में अभिलेख प्राप्त करने और बनाए रखने, अच्छे टाइपिंग- साधारण ड्राफ्ट और स्टेटमेंट तैयार इत्यादि की जिम्मेदारी आपकी होगी

डेटा एंट्री ऑपरेटर-  इस पद की नौकरी में रिपोर्ट तैयार करने, डेटा प्रविष्ट करने और प्रबंधित करने के साथ एमएस एक्सेल, एमएस वर्ड और अन्य कार्यालय अनुप्रयोगों पर विशेषज्ञता होनी शामिल है। इस पोस्ट के लिए टाइपिंग की गति अच्छी होनी चाहिए

SSC मल्टी टास्किंग स्टाफ जॉब प्रोफाइल और कर्तव्य :-
कोर्ट क्लर्क- यह अदालतों में शुरूआती स्तर का लिपिक पद है। ये कोर्ट में सुनवाई से संबंधित प्रशासनिक कार्य को संभालने, रैक में रिकॉर्ड रखने और जब भी आवश्यकता हो उन्हें बाहर निकालने के लिए जिम्मेदार होते हैं।_

SSC MTS कार्य प्रोफ़ाइल
इस प्रविष्टि के माध्यम से, एक उम्मीदवार को चपरासी, जमादार, दफ्तरी, गेस्टेटनेर, चौकीदार, माली, चालक आदि के रूप में पोस्ट किया जाता है।

SSC CHSL vs. SSC MTS: वेतन:-
SSC CHSL: वेतन विवरण-
CHSL पदों के तहत, अधिकारियों का वेतन निम्नानुसार है -

डाक सहायक / छंटनी सहायक- इस पोस्ट के लिए पेशकश वेतनमान रु० 5,200-20,200 और ग्रेड वेतन रू० 2,400 है| मेट्रो शहरों में इस पद के लिए सकल वेतन रु० 26,000 रुपये है और कर कटौती के बाद,  इनहैण्ड वेतन लगभग रु०23,500 होगा


लोअर डिवीजन क्लर्क-  इस पोस्ट के लिए वेतनमान पहले के समान है जो कि रु० 5,200-20,200 और ग्रेड वेतन रु० 1,900 निश्चित किया गया है मेट्रो शहरों में इस पद का कुल वेतन 20,000 रुपये और इनहैण्ड वेतन लगभग रु० 18,000 है|

डेटा एंट्री ऑपरेटर-  इस पद के लिए वेतन रु० 5,200-20,200 व ग्रेड वेतन रु० 1,900 और रु० 2,400 होता है। यह पोस्टिंग पर भी निर्भर करता है गणना की गई सकल वेतन लगभग रु० 26,000 होती है|

कोर्ट क्लर्क- यह पद 2016 में भर्ती में पहली बार शामिल किया गया है। मेट्रो शहरों के लिए, वेतन लगभग 20,000 रुपये है। जोकि वेतनमान रु० 5,200-20,200 और रु० 1, 900 के ग्रेड वेतन के अंतर्गत गणना करने के बाद इनहैण्ड वेतन लगभग रु० 18,000 प्राप्त होता है।

     उपर्युक्त वेतन 6 वें वेतन आयोग के अनुसार है। इन मापदंडों में 7वें वेतन आयोग की सिफारिश शामिल नहीं है।_
SSC MTS: वेतन विवरण :-
पोस्ट
MTS (जीपी 1800)
MTS (जीपी 1800)
MTS (जीपी 1800)

सिटी श्रेणी:-
X
Y
Z

मूल वेतन :-
18,000
18,000
18,000

सकल वेतन -
23,670
21,780
20,340

हाथ में वेतन -
20,245
18,355
16,915

SSC CHSL vs. SSC MTS: करियर विकास और संवर्धन :-
SSC CHSL के मामले में, चार पद हैं और पदोन्नति के विभिन्न स्तर हैं। आइए हर एक को देखें

SSC CHSL: प्रोमोशनल एवेन्यूज -

डाक सहायकों :-

लोअर चयन ग्रेड (एलएसजी) / पर्यवेक्षक--> उच्च चयन ग्रेड (एचएसजी) II / वरिष्ठ पर्यवेक्षक-->उच्च चयन ग्रेड (एचएसजी) द्वितीय / मुख्य पर्यवेक्षक

लोअर डिवीजन क्लर्क :-
सहायक / अपर डिविजनल क्लर्क-->डिवीजन क्लर्क--> सेक्शन ऑफिसर

डाटा एंट्री ऑपरेटर :-
डाटा एंट्री ऑपरेटर ग्रेड-बी-->डेटा एंट्री ऑपरेटर ग्रेड-सी-->डाटा एंट्री ऑपरेटर ग्रेड-एफ (सिस्टम विश्लेषक)_

कोर्ट क्लर्क:-
सहायक क्लर्क--> बेंच क्लर्क-->हेड क्लार्क

SSC MTS: प्रोमोशनल एवेन्यूज :-
       केंद्रीय नागरिक लेखा सेवा के नियम 5 (2) के अनुसार, एलडीसी में रिक्तियों का 5% MTS समूह 'सी' कर्मचारियों जिन्होंने ग्रेड पे रु० 1,800 में नियमित तीन साल की सेवा की हुई है, को वरिष्ठता के आधार पर पदोन्नति करके भर्ती किये जाते हैं|_

• प्रथम संवर्धन: रु० 1900 /- सेवा के तीन साल बाद
• दूसरा पदोन्नति: रु० 2000/ - सेवा के 3 वर्षों के बाद
• तीसरी संवर्धन: रु० 2400/ - 5 साल की सेवा के बाद
• और अधिकतम रुपये 5,400 / - तक

Thursday, November 3, 2022

How to Download Digital Voter id Card e-EPIC

Download Digital Voter id Card e-EPIC

नेशनल वोटर्स डे पर इलेक्शन कमीशन ने e-EPIC स्कीम की शुरुआत की गई इस स्कीम के अन्तर्गत आप अपने वोटर आई डी कार्ड को डाउनलोड कर पायेगे तथा इसका प्रिंट भी ले सकेगे कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद जी ने वोटर्स डे पर इसकी शुरुआत की एक फरवरी से सभी वोटर्स को यह सुविधा मिलने लगेगी।
            यह सुविधा शुरू होने के बाद वोटर लिस्ट में नाम शामिल होते ही इसे डाउनलोड किया जा सकेगा । वोटर इस कार्ड को प्रिंट कर सकते हैं, इसे लैमिनेट कर अपनी सहूलियत के हिसाब से इसे डिजिटली स्टोर भी कर सकते हैं।

E-EPIC डिजिटल कार्ड के फायदे
e-EPIC नए वोटर्स को जारी किए जा रहे इसे आप डिजीलॉकर में भी रख सकते है। e-EPIC डाउनलोड करने से पहले आपको KYC कराना होगा । इस सुविधा के बाद वोटर का एड्रेस चेंज होने पर बार-बार नया कार्ड बनवाने की जरूरत नहीं रहेगी । आप इसे QR कोड में बदले पते के साथ इसे नए सिरे से इसे डाउनलोड कर सकते है।

Digital Voter id Card डाउनलोड कैसे करे
     आपको वेबसाइट के साथ मोबाइल Application का लिंक दे रहा हु. जिससे आप अपने मोबाइल से भी इसे डाउनलोड कर सकते है --

Digital Voter id Card Download website Click Now
Digital Voter id Card Download website 2 Click Now
Digital Voter id Card Download Android App Click Now

e-EPIC डाउनलोड करने के लिए इन स्टेप्स को फॉलो करना होगा
e-EPIC डाउनलोड करने के लिए आपको http://voterportal.eci.gov.in/ or  https://nvsp.in/ या वोटर हेल्पलाइन ऐप पर जाना होगा।
वोटर पोर्टल पर खुद को रजिस्टर या लॉगिन करें।
इसके बाद मेन्यू पर जाकर डाउनलोड e-EPIC पर क्लिक करें।
EPIC नंबर या फॉर्म रैफरेंस नंबर डालें।
OTP से नंबर वैरिफाई करें।
                        अगर कोई दूसरा मोबाइल नंबर वोटर आई डी कार्ड पे है, तो KYC की प्रोसेस को पूरा करें। इसमें फेस लाइवनेस वैरिफिकेशन भी कर सकते हैं। KYC की मदद से नया नंबर अपडेट कर e-EPIC डाउनलोड किया जा सकेगा। e-EPIC आपके वोटर id card की वो PDF फाइल है जिसे आप आधार कार्ड की तरह डाउनलोड कर सकते हो. और अपने वोटर कार्ड का प्रिंट भी करवा सकते हो
 
Download _Digital_Voter_id_Card_e-EPIC




Monday, October 10, 2022

इंजीनियरिंग क्या है और इंजीनियर कैसे बने ?

इंजीनियर क्या करते हैं?

इंजीनियर ऐसी चीजें डिजाइन करते हैं जो हमारे जीवन को आसान बनाती हैं। इंजीनियर ब्रिज, बिल्डिंग, कार, प्लेन, रॉकेट, कंप्यूटर, स्मार्टफोन और कई अन्य उत्पाद बनाते हैं जिनका हम हर रोज इस्तेमाल करते हैं। इंजीनियर बोइंग, फोर्ड, गूगल, एप्पल, नासा और अन्य जैसी कंपनियों में काम करते हैं। 

कब कर सकते है इंजीनियरिंग का कोर्स ?

इंजीनियर बनने के लिए जरुरी है की आपने 12 वीं की पढ़ाई साइंस स्ट्रीम से की हो, क्योंकि साइंस स्ट्रीम के छात्र ही इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिला ले सकते हैं। भारत में इंजीनियरिंग के IIT , BIT , NIT जैसे कई बड़े मान्यताप्राप्त संस्थान है जो इंजीनियरिंग में दाखिला प्रदान करते हैं। इंजीनियरिंग कॉलेज में दाखिला के लिए छात्रों को Jee Mains , Jee Advance, GATE , BITSAT , CMAT, WBJEE , COMEDK UGET जैसे प्रवेश परीक्षा को उत्तीर्ण करना होता है।

इंजीनियरिंग_क्या_है_और_इंजीनियर_कैसे_बने

            10 वी के बाद आप जो कोर्स करते है उसे डिप्लोमा होल्डर कहते है यानी आप जूनियर इंजिनियर बनते है और अगर आप 12 वी के बाद यह कोर्स करते है तो उसे ग्रेजुएट होल्डर यानी पूर्ण इंजिनियर कहते है |

इंजिनियर कितने प्रकार के होते है ?

  • इलेक्ट्रिक इंजिनियर
  • मकेनिकल इंजिनियर
  • सिविल इंजिनियर
  • कंप्यूटर इंजिनियर
  • सॉफ्टवेर इंजिनियर
  • उर्जा इंजिनियर
  • फ्होतोनिक इंजिनियर
  • हय्द्रोलिक इंजिनियर
  • कृषि इंजिनियर
  • टेक्नोलॉजी इंजिनियर
  • ओसियन इंजिनियर
  • पेट्रोलियम इंजिनियर आदि

सिविल इंजीनियर - सिविल इंजीनियर पुलों, सड़कों, बांधों और इमारतों के निर्माण पर काम करते हैं। एक सिविल इंजीनियर इन संरचनाओं को इस आधार पर डिजाइन करता है कि वे कैसे काम करने जा रहे हैं, वे किस सामग्री का उपयोग करेंगे, वे कहाँ स्थित हैं, आदि। उनका काम यह सुनिश्चित करना है कि सब कुछ बिना किसी समस्या के सुचारू रूप से चलता रहे।

इलेक्ट्रिकल इंजीनियर - इलेक्ट्रिकल इंजीनियर बिजली का अध्ययन करते हैं  यह कैसे काम करता है। ये पेशेवर बिजली के उपकरण और सिस्टम डिजाइन करते हैं। वे कंपनियों को अपने उत्पाद बनाने में भी मदद करते हैं।

मैकेनिकल इंजीनियर - मैकेनिकल इंजीनियर कारों, विमानों और ट्रेनों जैसी चीजों को डिजाइन करते हैं। वे सुरक्षित और विश्वसनीय उत्पाद बनाने के लिए धातुओं, प्लास्टिक, रबर और कंपोजिट के साथ काम करते हैं।

कंप्यूटर इंजीनियर - कंप्यूटर इंजीनियर कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर के साथ काम करते हैं। वे C++, Java, Python, या HTकML जैसी प्रोग्रामिंग भाषाएं सीख सकते हैं।

Friday, September 23, 2022

NEET (2015-2020) Previous Years Question Papers PDF Download

आज हम आपको 2010 से 2020 तक नीट (NEET) के पेपर उपलब्ध करा रहे हैं जिसे आप हमारी वेबसाइट पर पढ़ सकते है या आप उन्हें अपने लेपटॉप या मोबाइल पर भी डाउनलोड कर सकते हैं।

                एआईपीएमटी परीक्षा का पैटर्न और उसका प्रारूप वर्ष 2013 से बदल दिया गया था। जब एआईपीएमटी के स्थान पर Neet को एनईईटी-यूजी ने आयोजित किया था। छात्रों को नीट के पाठ्यक्रम और अवधारणाओं को अच्छे से समझना चाहिए एआईपीएमटी और एआईपीएमटी के पिछले वर्ष के प्रश्नपत्रों को जरूर हल करें ।

NEET Previous Year Question Papers  ---  Download